• 11/08/2022 8:28 pm

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का पार्थिव शरीर अंतिम संस्कार के लिए उनके आवास 10 राजाजी मार्ग से लोधी रोड स्थित शवदाह गृह लाया जा रहा है। भारत रत्न से सम्मानित प्रणब का सोमवार शाम को 84 वर्ष की उम्र में निधन हो गया। उन्हें गत 10 अगस्त को  सेना के ‘रिसर्च एंड रेफ्रल हास्पिटल’ में भर्ती कराया गया था। उसी दिन उनकी ब्रेन सर्जरी हुई। इस दौरान जांच में वह कोरोना वायरस से संक्रमित भी पाए गए थे। इसके बाद उनके हालत में सुधार नहीं हुआ। वह कोमा में थे और उनके फेफड़े व किडनी में संक्रमण हो गया था।

10 राजाजी मार्ग पर राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री सहित तमाम हस्तियों ने दी श्रद्धांजलि

इससे पहले उनके आवास पर पहुंचकर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत अन्य लोगों ने उन्हें  श्रद्धांजलि दी। केंद्र सरकार ने उनके सम्मान में  31 अगस्त से लेकर छह सितंबर तक सात दिन का राजकीय शोक घोषित किया है। सोमवार को प्रणब के निधन पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, पीएम मोदी, अमित शाह, राहुल गांधी समेत कई नेताओं ने शोक जताया। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि  एक युग का अंत हो गया। वहीं पीएम मोदी ने कहा कि उन्होंने राष्ट्रपति भवन को ज्ञान, विज्ञान एवं संस्कृति का केंद्र बना दिया।

लालकृष्ण आडवाणी ने जताया शोक

भाजपा नेता लालकृष्ण आडवाणी ने कहा कि मैं उनसे उम्र में बड़ा हूं, लेकिन प्रणब दा सांसद के रूप में मुझसे एक साल सीनियर थे। हमारे सिद्धांत अलग थे, लेकिन जब मैं उनसे पहली बार मिला तभी से उनके साथ परस्पर सम्मान का रिश्ता कायम हो गया था। उनके निधन से आहत हूं।कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने शोक जताते हुए कहा कि पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के निधन से पूरा देश दुखी है। देशवासियों के साथ-साथ मैं भी उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। मैं उनके परिवार व मित्रों के प्रति गहरी संवेदना प्रकट करता हूं।

 

For Ragular Update Visit Our Site.

                                  Click Link Below.

https://newsmarkets24.com

twitter.com/newsmarkets24

https://www.facebook.com/newsmarkets

9:30 Live

Leave a Reply

Your email address will not be published.