• 11/08/2022 9:06 pm

#Aadhaar Card को लॉक और अनलॉक करने का ये है तरीका, गलत इस्‍तेमाल को लेकर नहीं रहेगी चिंता

Aadhaar Card आज के समय में भारतीय नागरिकों की पहचान का सबसे प्रमुख साधन है। 12 अंकों की यह विशिष्ट पहचान संख्या देश में कई तरह की सेवाओं के लिए जरूरी है। हालांकि, यह एक महत्वपूर्ण दस्तावेज है। ऐसे में हमें हमेशा यह डर सताते रहता है कि कोई और व्यक्ति या संगठन हमारे आधार नंबर का दुरुपयोग ना कर ले। Aadhaar Card जारी करने वाला भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) हर आधार कार्डधारक को उसके आधार नंबर को लॉक या अनलॉक करने की सुविधा देता है। यह सुविधा किसी व्यक्ति के आधार नंबर की प्राइवेसी और सिक्योरिटी के हिसाब से काफी अहम है।

Aadhaar Number को लॉक करने के क्या हैं फायदे

आधार नंबर को एक बार लॉक करने के बाद आपके आधार नंबर के जरिए डेमोग्राफिक, बायोमैट्रिक या फिर ओटीपी के जरिए ऑथेंटिकेशन नहीं हो पाएगा। इससे आधार नंबर के दुरुपयोग की आशंका खत्म हो जाएगी। ऐसे में आपको किसी भी तरह के केवाईसी के लिए 16 अंक के वर्चुअल आईडी की जरूरत होगी। आधार कार्ड को अनलॉक करने के बाद ही आप फिर से तमाम सेवाओं में केवाईसी के सत्यापन के लिए कार्ड का इस्तेमाल कर पाएंगे।

आधार नंबर को कैसे कर सकते हैं लॉक (How to lock Aadhaar Number)

1. UIDAI की वेबसाइट के जरिएः अगर आप अपने आधार नंबर को लॉक करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको UIDAI के रेजिडेंट पोर्टल (https://resident.uidai.gov.in/) पर लॉग ऑन करना होगा।

2.  इसके बाद ‘My Aadhaar’ टैब के अंतर्गत आपको ‘Aadhaar Services’ का विकल्प मिलेगा।

3. ‘Aadhaar Services’ में Lock/Unlock Biometrics पर क्लिक कीजिए।

4.  अब 12 अंक की आधार संख्या या 16 अंक का वर्चुअल आईडी प्रविष्ट कीजिए।

5. अब कैप्चा कोड के साथ ‘Send OTP’ पर क्लिक कीजिए।

6. ओटीपी एंटर करने के बाद आपके सामने बॉयोमैट्रिक डेटा को लॉक करने का ऑप्शन आएगा।

7. लॉक पर क्लिक करने के साथ ही आपका बॉयोमैट्रिक डेटा लॉक हो जाएगा।

यहां यह ध्यान देना जरूरी है कि आधार कार्ड को लॉक करने से पहले वर्चुअल आईडी जरूर जेनरेट कर लें क्योंकि आधार नंबर को लॉक करने के बाद केवाईसी से जुड़ी किसी भी तरह की जरूरत के लिए आपको वर्चुअल आईडी की दरकार होगी।

कैसे अनलॉक किया जा सकता है आधार नंबर (How to unlock Aadhaar Number)

आपने जिस प्रक्रिया के साथ अपने आधार नंबर को लॉक किया है, उसी प्रक्रिया के साथ उसे अनलॉक भी कर सकते हैं। इसके लिए आपको ओटीपी प्रविष्ट करने के बाद बॉयोमैट्रिक डेटा को ‘अनलॉक’ करने के विकल्प को चुनना होगा।

9:30 Live

Leave a Reply

Your email address will not be published.