• 11/08/2022 7:17 pm

#वैष्णोदेवी के दर्शन आज से:करीब 6 महीने से बंद माता वैष्णोदेवी भवन भक्तों के लिए खुला, दर्शन के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराना होगा

  • जम्मू-कश्मीर के 1900 और अन्य राज्यों के 100 भक्त कर पाएंगे वैष्णोदेवी के दर्शन
  • करीब 700 साल पहले वैष्णोदेवी के भक्त पं. श्रीधर ने की थी गुफा की खोज
  • भक्तों को मास्क पहनना होगा, सोशल डिस्टेंसिंग और सैनिटाइजेशन का पालन करना होगा

कोरोना काल में आम भक्तों के लिए करीब 6 महीने से बंद माता वैष्णोदेवी का मंदिर 16 अगस्त से सभी भक्तों के लिए खुल रहा है। शुरुआती दिनों में केवल 2 हजार लोग ही दर्शन कर पाएंगे। कोरोना से पहले यहां एक दिन में 50-60 हजार लोग रोजाना दर्शन करते थे।

वैष्णोदेवी मंदिर जम्मू-कश्मीर की त्रिकुटा पहाड़ियों पर स्थित है। मंदिर करीब 5200 फीट ऊंचाई पर और जम्मू से 61 किमी और कटरा से 13 किमी दूर है। वैष्णो देवी की तीन पिंडियों में देवी काली, देवी सरस्वती और देवी लक्ष्मी के रूप में गुफा में विराजित हैं। यात्रा शुरू होने के बाद पहले सप्ताह में 1,900 भक्त जम्मू-कश्मीर के और 100 भक्त अन्य राज्यों के रोज दर्शन कर सकेंगे।

श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड के सीईओ रमेश कुमार ने बताया कि यात्रा रविवार (16 अगस्त) से शुरू होनी है। दर्शन के लिए भक्तों को ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराना होगा। सभी भक्तों के लिए फोन में आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करना अनिवार्य होगा। मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग और सैनिटाइजेशन का ध्यान रखना होगा।

यात्रियों की थर्मल स्कैनिंग भी की जाएगी। 10 साल से कम उम्र के बच्चे, गर्भवती महिलाएं, 60 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को दर्शन करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। साथ ही, जिन लोगों में कोविड-19 से जुड़े कोई भी लक्षण दिखाई देते हैं, उन्हें दर्शन करने से रोक दिया जाएगा।

9:30 Live

Leave a Reply

Your email address will not be published.