• 15/08/2022 8:33 pm

#चीन #सीमा पर तनाव के बीच भारत ने पश्चिमी मोर्चे पर तैनात किए स्वदेशी लड़ाकू विमान तेजस

भारत चीन तनाव के बीच भारतीय वायु सेना दुश्मनों पर चौकस नजर रखे हुए है। भारतीय वायु सेना (IAF) ने लद्दाख मोर्चे पर चीन के साथ तनाव के मद्देनजर पाकिस्तान सीमा से सटे पश्चिमी मोर्चे पर स्वदेशी हल्के लड़ाकू विमान (LCA) तेजस तैनात किएं हैं। तेजस अनेक भूमिकाओं को निभाने में सक्षम एक हल्का लड़ाकू विमान है।

समाचार एजेंसी एएनआइ को सरकारी सूत्रों ने बताया कि हल्के लड़ाकू विमान (LCA) तेजस को भारतीय वायु सेना द्वारा पश्चिमी सीमा पर पाकिस्तान सीमा के करीब तैनात किया गया है, ताकि वहां से होने वाली किसी भी संभावित कार्रवाई पर कड़ी निगरानी रखी जा सके। इसके साथ ही सूत्रों ने बताया कि दक्षिणी वायु कमान के तहत सुलूर एयरबेस से बाहर पहले तेजस स्क्वाड्रन ’45 स्क्वाड्रन (फ्लाइंग डैगर्स)’ को एक ऑपरेशनल भूमिका में तैनात किया गया है।

पीएम मोदी ने तेजस विमान की प्रशंसा की थी

स्वदेशी तेजस विमान की प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा स्वतंत्रता दिवस के भाषण के दौरान प्रशंसा की गई थी जहां उन्होंने कहा था कि LCA Mark1A वर्जन को खरीदने का सौदा जल्द ही पूरा होने की उम्मीद है।

बता दें कि विमानों का पहला स्क्वाड्रन इनिशियल ऑपरेशनल क्लीयरेंस वर्जन का है, वहीं दूसरा 18 स्क्वाड्रन ‘फ्लाइंग बुलेट्स’ अंतिम ऑपरेशनल क्लीयरेंस वर्जन का है और इसका संचालन भारतीय वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया ने 27 मई को सुलूर एयरबेस में किया था।

दोनो सीमाओं पर तैनात किए गए हथियार

भारतीय वायु सेना और रक्षा मंत्रालय को इस वर्ष के अंत तक 83 Mark1A विमानों के लिए सौदे को अंतिम रूप देने की उम्मीद है। सीमाओं पर चीनी आक्रमण के मद्देनजर भारतीय वायुसेना ने अपने हथियारों को चीन और पाकिस्तान दोनों सीमाओं पर तैनात किया है।

सुरक्षा बल के फॉरवर्ड एयरबेसों को पश्चिमी और उत्तरी मोर्चों पर स्थितियों की देखभाल करने के लिए तैनात किया गया है और हाल के दिनों में व्यापक उड़ान संचालन भी देखा गया है, जिसमें दिन और रात के समय हवाई अभियान भी शामिल हैं।

 

For Ragular Update Visit Our Site.

                                   Click Link Below.

https://newsmarkets24.com

twitter.com/newsmarkets24

https://www.facebook.com/newsmarkets

9:30 Live

Leave a Reply

Your email address will not be published.