Sunday, June 23, 2024

कंपनी नोवेलिस द्वारा IPO स्थगित करने के बाद हिंडाल्को के शेयर की कीमत में 6% की गिरावट

बुधवार को शुरुआती कारोबार में हिंडाल्को इंडस्ट्रीज के शेयर की कीमत में करीब 6% की गिरावट आई, क्योंकि इसकी अमेरिकी सहायक कंपनी नोवेलिस इंक ने बाजार की स्थितियों के कारण अपना आईपीओ (आरंभिक सार्वजनिक निर्गम) स्थगित कर दिया। बीएसई पर हिंडाल्को के शेयर 5.94% गिरकर ₹608.40 पर आ गए।

नोवेलिस ने कहा कि कंपनी भविष्य में पेशकश के समय का मूल्यांकन करना जारी रखेगी। कंपनी ने इस आईपीओ से 810 मिलियन डॉलर से 945 मिलियन डॉलर तक जुटाने की योजना बनाई थी। हिंडाल्को ने पिछले सप्ताह घोषणा की थी कि नोवेलिस आईपीओ का मूल्य बैंड 18 से 21 डॉलर प्रति शेयर तय किया गया है।

ग्रीन शू विकल्प के कारण नोवेलिस आईपीओ से शुद्ध आय 931.5 मिलियन डॉलर से 1.08 बिलियन डॉलर के बीच होने का अनुमान था। एवी मिनरल्स (नीदरलैंड) एनवी, जो हिंडाल्को इंडस्ट्रीज की एक अन्य सहायक कंपनी है, आईपीओ में 45 मिलियन नोवेलिस शेयर बेचने वाली थी। नोवेलिस शेयरों की सफल लिस्टिंग के बाद, हिंडाल्को के पास 555 मिलियन नोवेलिस शेयर या 92.50% हिस्सेदारी होगी।

नोवेलिस का आईपीओ अमेरिका में किसी भारतीय कंपनी का सबसे बड़ा आईपीओ माना जा रहा था। दुनिया की सबसे बड़ी एल्युमिनियम रिसाइकिलर कंपनी नोवेलिस, जिसके ग्राहकों में कोका-कोला, फोर्ड और जगुआर लैंडरोवर शामिल हैं, अपने अमेरिकी आईपीओ में 12.6 बिलियन डॉलर तक के मूल्यांकन का लक्ष्य रख रही थी। आदित्य बिड़ला समूह की कंपनी हिंडाल्को ने 2007 में नोवेलिस का अधिग्रहण किया था।

सुबह 9:25 बजे बीएसई पर हिंडाल्को के शेयर 5.54% की गिरावट के साथ 611.00 रुपए प्रति शेयर पर कारोबार कर रहे थे।

Latest news
Related news